हिंदी वचन क्या है? वचन के भेद होते हैं? तथा इसको बनाने के क्या नियम हैं?

वचन क्या है?

संज्ञा सर्वनाम क्रिया तथा विशेषण के जिस रुप से संख्या का बोध होता है उसे वचन कहते हैं।

 उदाहरण –

  1. लड़का ,लड़की ,कुत्ता ,घोड़ा ,आदि। – एक का बोध
  2. लड़के, लड़कियां, कुत्ते, घोड़े ,आपलोग ,आदि।- अनेक का बोध
वचन क्या है वचन के नियम

 वचन के भेद

वचन के दो भेद होते हैं –

  1. एकवचन
  2. बहुवचन 

(1) एकवचन – शब्द के जिस रुप से एक वस्तु या व्यक्ति का बोध होता है उसे एक वचन कहते हैं ।

उदाहरण – गाय, किताब, कलम, लड़का आदि।

(2) बहुवचन – शब्द के जिस रूप से एक से अधिक व्यक्तियों या वस्तुओं का बोध होता है उसे बहुवचन कहते हैं  ।

उदाहरण – गाये ,किताबें ,कमले ,लड़के ,आदि।

इसे भी पढ़ें – समास क्या है यह कितने प्रकार का होता है? भेद एवं उदाहरण

बहुवचन बनाने के नियम

(1) इकारांत और ईकारांत स्त्रीलिंग शब्दों के अंत में ‘इ’ ‘ई’ को इयां मैं बदल कर बहुवचन बनाया जाता है ।

उदाहरण –

लड़कीलड़कियां।
नारीनारियां
नीतिनितीयां
तिथितिथिया
सखीसखियां
रानीरानियां
विधिविधियां
स्त्रीस्त्रियां
मिठाईमिठाईयां

 (2) ‘उकारांत’ ऊकारांत ‘स्त्रीलिंग शब्द के अंत में बस ‘एं’ जोड़कर बहुवचन बनाया जाता है यदि अंत में ‘ऊ’ हो तो उसे ‘उ ‘करके ‘एं ‘लगाया जाता है।

 उदाहरण –

वस्तुवस्तुए
बहूबहुएं
वधूवधुए
धनुधनुए
ऋतुऋतुए।
धातुधातुएं

(3) अकारांत पुल्लिंग शब्दों के अंत मे आ ‘को ‘ ऐ’ बदलकर बहुवचन बनाया जाता है।

 उदाहरण –

लड़कालड़के
कमराकमरे
घोड़ाघोड़े
पहियापहिए
पुआपुए।
कपड़ाकपड़े
हराहरे
छोटाछोटे

(4) कुछ स्त्रीलिंग या पुल्लिंग एकवचन  शब्दों में गण वर्ग, जन,जाति ,वृंद ,लोग ,दल आदि शब्द लगाकर बहुवचन बनाया जाता है  ।

उदाहरण –

गणपाठकगण, छात्रगढ़, नेतागण, मंत्री गण
वर्गअधिकारीवर्ग, शासकवर्ग, धनीवर्ग, छात्रवर्ग ।
जनवृद्धजन,भक्तजन, गुरुजन, स्त्रीजन
जातिमनुष्यजाति, स्त्रीजाति, मानवजाति, पुरुषजाति ।
लोगडॉक्टरलोग, विद्यार्थीलोग
दलविद्यार्थी दल, छात्र दल, नेता दल, स्त्री दल ।

(5) अकारांत स्त्रीलिंग शब्दों के अंत में ‘आ’ के साथ ‘ए ‘जोड़कर बहुवचन बनाया जाता है  ।

उदाहरण –       

लतालताए
दिशादिशाएं
मातामाताएं
कन्याकन्याए
महिलामहिलाएं
समस्यासमस्याएं
भाषाभाषाएं
शाखाशाखाएं

(6) अकारांत स्त्रीलिंग शब्दों के अंत में’ अ ‘को ‘ए’  में बदलकर बहुवचन बनाया जाता है

  उदाहरण –

गाय –गाये
पुस्तकपुस्तकें
झीलझीले।
बहनबहने
रातरातें
आंखआंखे
सड़कसड़कें
आदतआदतें
बातबातें

(7) ‘या ‘से अंत होने वाले स्त्रीलिंग शब्दों के अंत वाले ‘या ‘को ‘यां ‘में बदलकर बहुवचन बनाया जाता है ।

उदाहरण –

चिड़ियाचिड़ियां।
चुहियाचुहियॉ
गुड़ियागुड़ियां।
खटियाखटियां
कुटियाकुटियां

वचन से जुड़े कुछ सवाल जवाब

वचन क्या है?

संज्ञा सर्वनाम क्रिया तथा विशेषण के जि

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.