Fastag क्या है? कैसे काम करता है कैसे बनाये और Activate करें।

क्या आप जानते है की Fastag क्या होता है यह कैसे का करता है और हम इसे कैसे बना सकते है आज के समय में फास्टैग का उपयोग करना बहुत जरुरी हो गया है।फास्टैग का यूज करने से हमारा पैसा और समय दोनों बचता है फास्टैग एक प्रकार का कार्ड होता है जिसको अपनी कार में लगाकर टोल प्लाजा में हम अपना टोल चार्ज को बहुत ही आसानी से कार के बिना रुके चुकाकर अपना समय बचा सकते हैं।

सरकार ने 1 दिसंबर से FASTag को अनिवार्य कर दिया। 1 दिसंबर से सभी टोल प्लाजा इलेक्ट्रॉनिक हो गए हैं और FasTag को लेगे ताकि लोगों का अपना घंटों का समय Toll Plaza में ख़राब न हो। FASTag होने के कारण अब आपको पैसे रखने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि आप FASTag का use करके अपने अकाउंट या वॉलेट से आप टोल प्लाजा में पैसे चूका पायेगे।

Fastag क्या है?(What is FasTag in Hindi)

FasTag एक प्रकार का electronicटोल सिस्टम है जिसे National Highway Authority of India द्वारा बनाया गया है। FasTag एक कार्ड होता है जिसमें एक चिप लगी होती है इस चिप को RFID कहते है जो रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन पर काम करता है इस कार्ड को हम अपनी कार के विंड स्क्रीन में लगा लेते है इस कार्ड या चिप में हमारी गाड़ी की इनफार्मेशन स्टोर रहती है फ़ास्ट टैग कार्ड को हमे रिचार्ज करना होता है जब हमारी गाड़ी किसी टोल प्लाजा से निकलती है तो टोल में लगा RFID रीडर हमें फ़ास्ट टैग को डिटेल्स को रीड करके टोल के सिस्टम तक पंहुचा देता है जिससे टोल उस कार्ड के Wallet पर पड़ी राशि को स्वतः ही काट लेता है और आपका टोल का चार्ज चुक जाता है क्या आप जानते है Fastag क्या और कैसे काम करता है?

FasTag कैसे काम करता है

FasTag रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन(Radio Frequency Identification) पर काम करता है RFID एक प्रकार की चिप होती है जिससे रेडियो सिग्नल निकलते है इस चिप में हम जानकारी को स्टोर होती है तथा इसको रीड करने के लिए एक रीडर होता है। जिसमे इस RFID की जानकारी भी स्टोर होती गई इस रीडर को हमे यह बताना होता है की जब भी फास्टैग कार्ड वाली RFID इसके संपर्क में आये तो टोल तो RFID को राशि को काट ले और टोल पर लगे बेरीअर को खोल दे। जिससे गाड़ी को रुकना नहीं पड़ता है इस तरह से fastag काम करता है और हमारे समय को बचा लेता है।

FasTag कैसे बनाये (How To Apply Fastag)

फास्टैग को हम बहुत से बैंको के माध्यम से बनवा सकते है हर बैंक अपना फास्टैग देता है और हम फास्टैग को ऑनलाइन Apply कर मगवा सकते है इसके लिए हमें बैंको की फास्टैग की वेबसाइट में जाना होगा –

  • किसी भी फास्टैग को अप्लाई करने के लिए बैंक या जिस वॉलेट से बनवाना कहते है उसकी वेबसाइट में जाये।
  • Apply करने पर आपकी पर्सनल डिटेल्स जैसे आपका नाम मोबाइल नंबर जीमेल आईडी जन्म तिथि भरना होगा।
  • Next स्टेप में आपको आइडेंटिटी prof के लिए आधार कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस वोटर आईडी डालकर वेरीफाई करना होगा।
  • अगले स्टेप में आपको अपनी गाड़ी की RC (registration Card) को अपलोड करना होगा।
  • सब स्टेप हो जाने के बाद आपको फास्टैग के wallet में कुछ deposit राशि ऐड करना होता है।

आपको पेमेंट करनी होती है ये अमाउंट 500 से 1000 तक हो सकती है इस राशि में आपके फास्टैग के चार्ज के साथ कुछ security डिपाजिट राशि जमा करा ली जाती है ताकि जब भी अपनी गाड़ी या कार टोल प्लाजा से निकले तो ये राशि काट जाये।

FasTag कैसे और कहा लगाये

FasTag को गाड़ी या कार की विंड स्क्रीन पर लगाया जाता है इस कार्ड को हमें ऐसी जगह लगाना होता है जहाँ से कार्ड का पूरा हिस्सा दिखे इसलिए इसे कार के सामने वाले ग्लास(विंड स्क्रीन) में लगाया जाता है जिससे जिससे RFID रीडर इसको अच्छी तरह से स्कैन कर सके और आपका टोल को जल्दी से जल्दी Pay हो सके इसको हमें front साइड में लगाना चाहिए कार के विंड स्क्रीन में क्यकि जब भी हमारी गाड़ी टोल प्लाजा में एंटर करती है तो सबसे पहले आपकी गाड़ी का आगे वाला हिस्सा ही टोल प्लाजा में लगे RFID रीडर के संपर्क में आता है और स्कैनर इसको जल्दी से जल्दी से रीड करके टोल का बैरियर को ओपन कर देता है।

FasTag को कैसे Activate करते है

FasTag को हम अलग अलग तरीको से activate कर सकते है क्योंकि फास्टैग बहुत सरे बैंको से ख़रीदा जाता है आइये जानते है की फास्टैग को कैसे एक्टिवेट करते है fastag को यदि अपने NHAI से ख़रीदा है तो आप इसके फास्टैग App से लॉग इन करके आपको अपने fastag के टैग को वेरीफाई करना होने टैग वेरीफाई होने के बाद आपका fastag Activate हो जायेगा इसके आलावा अपने यदि fastag को My Airtel ऐप या paytm एप्लीकेशन से ख़रीदा है तो आप उसी एप्लीकेशन में जाकर टैग को verify करना होगा इसके बाद आपका fastag activate हो जायेगा।

फास्टैग की वैधता (FasTag Validity)

FasTag की Validity 5 साल की होती है इसको हमें 5 साल के बाद नया लगवाना पड़ता है यदि आपकी गाड़ी का फास्टैग कार्ड Validity के पहले ही ख़राब हो जाता है तो इसका उसे हम replace करके नया इशू करा सकते हैं आप यदि अपनी कार या गाड़ी को बेच देते हैं ऐसे में आप अपने फास्टैग को Deactivate कर दे नहीं तो आपकी गाड़ी जब भी टोल से निकलेगी आपके अक्कोउट से पैसे कटते रहेंगे।

FasTag Recharge कैसे करें

FasTag को खरीदने के बाद जब भी इसका बैलेंस खत्म या लो हो जायेगा इसका रिचार्ज करना पड़ेगा अपने जिस बैंक से fastag को लिया है उस बैंक की वेबसाइट में जाकर अपने fastag को रिचार्ज कर सकते है या आप paytm फ़ोन पे , Google Pay, Airtel ऐप और Fastag के ऑफिसियल ऐप से FasTag Recharge कर सकते है जायदा जानकारी के लिए जाये

💠 Fastag Recharge कैसे करें : Fastag Recharge Kaise Kare
💠 FasTag UPI Quick Recharge कैसे करे हिंदी में
💠 WhatsApp से पैसे कैसे Transfer करें

इसका उपयोग हमें बहुत जरुरी है फास्टैग के पहले जब भी हम टोल प्लाजा में एंटर करते थे हमे लाइन में लगना पड़ता था और हमारा बहुत ही समय ख़राब होता था। लाइन में लगकर घंटो लग जाते थे पर आज के से समय में हम घर बैठे फास्टैग बना सकते है फास्टैग बन जाने पर इसको activate करके अपने vehicle पर लगाकर अपना समय और पैसा दोनों बचा सकते हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.