प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना 2022 क्या है? योजना का लाभ, आवेदन कैसे करें

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना – केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान अब घरों की छतों पर स्थापित किए जाएंगे सोलर पावर प्लांट। सोलर पावर प्लांट लगाने हेतु सब्सिडी राशि भी सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। अधिक ऊर्जा को विद्युत कंपनी कंपनियों को बेच कर लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

Table of Contents

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना क्या है? | PM Solar Rooftop Yojana 2022

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना (PM Solar Rooftop Yojana) भारत सरकार के नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित योजना है जिसके अंतर्गत भारत की भविष्य की ऊर्जा मांग को देखते हुए सोलर ऊर्जा के क्षेत्र को बढ़ाना निश्चित किया गया है जिससे पर्यावरण को दूषित ना रखते हुए भारत की ऊर्जा मांग की पूर्ति की जा सके। इस योजना के अंतर्गत वर्ष 31 दिसंबर 2022 तक 40000 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाना है।

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना क्या है

इसे भी पढ़े – 2022 प्रधानमंत्री दक्ष योजना क्या है?

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के क्या उद्देश्य है?

  • सोलर रूफटॉप योजना का मुख्य उद्देश आगामी वर्षों में भारत की ऊर्जा मांग की पूर्ति नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों से करना है।
  • इस योजना के अंतर्गत 2022 तक भारत के कुल मांग 1 लाख मेगावाट होगी जिसमें सोलर ऊर्जा का योगदान 40000 मेगावाट किया जाना निश्चित किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवास एवं व्यवसायिक संस्थानों की छत पर सोलर पावर प्लांट स्थापित कर ऊर्जा का उत्पादन किया जाना है इस हेतु केंद्रीय नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय को इसका प्रभार दिया गया है।

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के क्या लाभ है?

  • प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत आवासीय तथा व्यवसायिक संस्थानों की छतों पर सोलर पावर प्लांट लगाने हेतु 30% तक की स्थापित राशि की सब्सिडी दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत व्यक्ति जो अपनी छतों पर सोलर पावर प्लांट लगवाना चाहते हैं उन्हें 10 लाख तक का होम लोन भी राष्ट्रीयकृत बैंकों द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत घरों की छत पर 16 बॉल पर लगाने वाले उपभोक्ताओं को ₹2 प्रति यूनिट के आधार पर उत्पादित ऊर्जा प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत एक तय सीमा से उत्पादित ऊर्जा को नियत दरों पर बेचकर लाभ भी कमा सकते हैं।
  • इस योजना में 500 किलोवाट तक के सोलर प्लांट को लगवाने में 20% की सब्सिडी केंद्र सरकार द्वारा वहन की जाएगी
  • मौजूदा बिजली बिल में सोलर रूफटॉप योजना का प्रयोग करने से कमी आएगी।
  • इस योजना हेतु घरों की खाली छतों का प्रयोग किया जाएगा अतः अलग से स्थापन हेतु जमीन की आवश्यकता नहीं होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत अतिरिक्त वितरण विद्युत लाइनों का की आवश्यकता नहीं होगी।
  • सोलर रूफटॉप योजना से सोलर पैनल का स्थापना व 5 से 6 वर्षों में पूर्ण हो जाएगा इसके साथ ही आगामी 25 साल तक सोलर ऊर्जा का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत सोलर प्लांट लगवाने के लिए काफी कम क्षेत्रफल जैसे 1 किलो वाट सौर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर की जगह की आवश्यकता होगी।

प्रधानमंत्री सोलर योजना के लिए आर्थिक सहायता कैसे प्राप्त करें?

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना का क्रियान्वयन विद्युत वितरण कंपनी (डिस्कॉम्स) के अंतर्गत किया जाना है अतः जिन उपभोक्ताओं को इस योजना का लाभ उठाना है उन्हें अपने क्षेत्रीय विद्युत वितरण कंपनी से संपर्क करना होगा। संपर्क करने के उपरांत विद्युत वितरण कंपनी द्वारा ही उपभोक्ता के छत पर सोलर पावर प्लांट स्थापित किया जाएगा।

सोलर रूफटॉप योजना की मुख्य बातें

क्रमांक          सोलर रूफटॉप योजना संबंधित जानकारी
सोलर रूफटॉप योजना हेतु आवश्यक क्षेत्रफल
बिना सब्सिडी के सोलर रूफटॉप योजना का स्थापित व्यय
30% सब्सिडी उपरांत सोलर रूफटॉप योजना का स्थापित व्यय
प्रोत्साहन राशि हेतु न्यूनतम उत्पादित सोलर ऊर्जा

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना हेतु आवेदन कैसे करें?

  • प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना हेतु भारत सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा एक पोर्टल बनाया गया है जिसकी लिंक https://solarrooftop.gov.in/grid_others/discomPortalLink है
  • उपरोक्त लिंक के माध्यम से आवासीय एवं गृह निर्माण समितियों घरों की छत पर सोलर पावर प्लांट के स्थापन के लिए आवेदन कर सकती हैं इसके लिए उन्होंने पोर्टल पर दर्शाई गई विद्युत वितरण कंपनियों के पास आवेदन करना होगा।
  • सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत पूर्व से सोलर पावर प्लांट स्थापित होने पर विद्युत वितरण वितरण कंपनी के माध्यम से सब्सिडी हेतु स्वीकार किया जाएगा।
  • सोलर रूफटॉप पोर्टल की मदद से आप अपने घरों की छत पर लेने वाले प्लांट की स्थापना राशि की गणना स्वयं कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना से जुड़े कुछ सवाल जवाब

पीएम सोलर रूफटॉप योजना क्या है?

पीएम सोलर रूफटॉप योजना अंतर्गत भारत की भविष्य की ऊर्जा मांग को देखते हुए सोलर ऊर्जा के क्षेत्र को बढ़ाना निश्चित किया गया है जिससे पर्यावरण को दूषित ना रखते हुए भारत की ऊर्जा मांग की पूर्ति की जा सके।

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत 2022 तक कितने मेगावाट बिजली उत्पादन किया जाना है?

प्रधानमंत्री सोलर रूफटॉप योजना के अंतर्गत 2022 तक 40000 मेगावाट बिजली उत्पादन किया जाना है।

सोलर रूफटॉप योजना में छतों में सोलर पैनल लगवाने हेतु कितने परसेंट की छूट मिलती है?

सोलर रूफटॉप योजना में छतों में सोलर पैनल लगवाने हेतु 30% की छूट मिलती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.