VPA क्या है? यह किस तरह काम करता है? VPA कैसे बनाये।

आज के समय में VPA का उपयोग बहुत ज्यादा किया जा रहा है क्योंकि हम यूपीआई ऐप का उपयोग करते हैं तो जाहिर सी बात है कि VPA का उपयोग तो करेंगे क्योंकि VPA यूपीआई आपके द्वारा ही बनाया जाता है और इसका उपयोग पैसे को ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है।

VPA की वजह से हमें पैसे ट्रांसफर करने के लिए बैंक अकाउंट की जरूरत नहीं होती है हम सीधे VPA में पेमेंट कर सकते हैं आइए जानते हैं VPA क्या है और एक किस तरह काम करता है? 

VPA क्या है?

VPA का Full Form Virtual Payment Address है यह UPI ऐप का एक address होता है जो कि यूजर के बैंक अकॉउंट से लिंक होता है जब भी कोई इस UPI Address पर पेमेंट करता है तो वह राशि यूजर के linked बैंक Account में चली जाती है।

जब भी हम किसी यूपीआई ऐप को रजिस्टर करते हैं तो VPA बनाया जाता है और जब आप उस ऐप में बैंक अकाउंट लिंक करते हैं तो VPA बैंक अकाउंट लिंक हो जाता है अब जब भी आप कोई भी पेमेंट प्राप्त करेंगे तो वह आपके बैंक अकाउंट में आ जाएगा।

पहले के समय में पैसे ट्रांसफर करने के लिए बैंक अकाउंट नंबर, अकाउंट होल्डर नाम और आईएफएससी कोड की जरूरत होती थी पर वर्चुअल पेमेंट ऐड्रेस आने से आप सीधे उस व्यक्ति के Virtual Payment Address पर पेमेंट कर सकते हैं और वह पेमेंट रिसीवर के अकाउंट में चली जाएगी। हालांकि अभी भी हमें किसी व्यक्ति का VPA पता ना होने पर हम यूपीआई ऐप से ही बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

VPA Full Form in Hindi

VPA का Full-Form Virtual Payment Address है? यह UPI ऐप में पैसे भेजने के लिए उपयोग किया जाता है।

VPA कैसे काम करता है?

VPA का पूरा नाम वर्चुअल पेमेंट ऐड्रेस है जैसा कि इसका नाम है उसी प्रकार यह काम करता है यह यूपीआई एप का एक वर्चुअल ऐड्रेस होता है जोकि किसी भी बैंक अकाउंट के साथ लिंक कर दिया जाता है Virtual Payment Address में आपके द्वारा बनाया गया नाम या मोबाइल नंबर के साथ उस यूपीआई एप का एड्रेस होता है जिस यूपीआई ऐप के साथ यह बनाया गया होता है।

जैसे कि VPA [email protected] जो की paytm ऐप से बनाया गया है इस एड्रेस में @ के पहले की जो नंबर या नाम है यह आपके द्वारा बनाया जाता है और @ के बाद लिखा हुआ पेटीएम बैंक के द्वारा या ऐप के द्वारा डिसाइड किया जाता है @paytm के साथ जो भी पेमेंट किए जाएंगे वह पेटीएम के ऐप में जाएंगे और जिस VPA में जो भी Account लिंक होगा उसमें चले जायेगे। इसी प्रकार एसबीआई का VPA [email protected]  होता है।

VPA कैसे बनाये?

Virtual Payment Address बनाने के लिए आपके पास किसी भी यूपीआई ऐप का होना बहुत ही जरूरी होता है। बिना यूपीआई ऐप के आप Virtual Payment Address नहीं बना सकते।

Virtual Payment Address या VPA बनाने के लिए यूपीआई ऐप को डाउनलोड करें और उसे रजिस्टर करें। रजिस्टर करने के समय आपको VPA बनाने का ऑप्शन मिलेगा। किसी भी UPI ऐप का VPA आपका मोबाइल नंबर हो सकता है जो कि Default रूप से बना दिया जाता है। VPA को आप अपने UPI ऐप में जाकर बदल सकते हैं।

अपना VPA कैसे पता करें? How to find VPA in Hindi

VPA का पता करना बहुत ही आसान होता है आप जिस भी ऐप में अपना Virtual Payment Address पता करना चाहते हैं उस ऐप को open करें।UPI ऐप Open होने के बाद MY Account या मैनेज अकाउंट में जाकर VPA  देख सकते हैं।

नोट – अलग-अलग UPI ऐप में यह Option दूसरी जगह हो सकता है।

VPA के उदाहरण (VPA Example)

UPI ApplicationVPA
State Bank Of India[email protected]
HDFC Bank[email protected]
ICICI Bank[email protected]
PhonePe[email protected], [email protected]
BHIM UPI[email protected]
Kotak Mahindra Bank[email protected]
Freecharge[email protected]
Paytm[email protected]

किसी भी VPA में कैसे पेमेंट करें?

  • UPI ऐप को Open करें।
  • New Payment में जाये।
  • अब अपना VPA को डालें जिसमें पैसे भेजना चाहते हैं।
  • Details को confirm करें।
  • UPI पिन डालें।

Note – आप किसी भी UPI ऐप  से किसी भी UPI ऐप में VPA से पेमेंट कर सकते हैं यह जरुरी नहीं होता है कि आपके पास भी वही ऐप हो जो की Receiver के पास है।

ये भी पढ़े –

VPA से जुड़े कुछ सवाल जवाब

 VPA का Full Form या पूरा नाम क्या है?

VPA का पूरा नाम Virtual Payment Address है यह UPI ऐप में पैसे भेजने के लिए उपयोग किया जाता है।

क्या हम VPA को बदल सकते हैं?

हम किसी भी UPI ऐप के VPA को बदल सकते है VPA को बदलने के लिए उस ऐप के My Account या मैनेज अकाउंट में जाकर change VPA में जाकर बदल सकते हैं।

एक VPA से कितने बैंक Account को लिंक कर सकते हैं?

एक VPA से एक समय में एक ही बैंक Account को लिंक कर किया जा सकता है। दूसरे अकाउंट को लिंक करने के लिए Add New Account में जाकर आप अकाउंट को ऐड कर लें और उसको Primary या default अकाउंट में सेट कर दे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.