5G टेक्नोलॉजी क्या है? कैसे काम करती है 5G की स्पीड कितनी होती है?

5G क्या है? इसके बारे में आप ज्यादा जानते ही नहीं होंगे क्योंकि हमारे इंडिया में अभी 4G टेक्नोलॉजी का उपयोग हो रहा है जो की बहुत ही तेज है परन्तु 5G टेक्नोलॉजी 4G से ज्यादा बेहतर और ज्यादा तेज है। आज हम 5G के बारे में बात करने वाले हैं?

भारत में 5G कब तक आना है

5G टेक्नोलॉजी क्या है? | What is 5G in Hindi

5G टेक्नोलॉजी एक 5th जनरेशन मोबाइल नेटवर्क है। यह 1g 2G 3G और 4G नेटवर्क के बाद एक नया ग्लोबल वायरलेस स्टैंडर्ड है। 5G टेक्नोलॉजी एक ऐसा नेटवर्क है जिसमें virtually सभी लोगों तथा सभी चीजों जैसे मशीन डिवाइस आदि को जोड़ा जा सकता है।

5G वायरलेस टेक्नोलॉजी के माध्यम से अधिक डाटा स्पीड अधिक विश्वसनीयता अधिक नेटवर्क क्षमता तथा अधिक से अधिक लोगों के लिए समान नेटवर्क अनुभव जैसी सुविधा देना संभव हो सकेगा। 5G नेटवर्क के higher performance और improved efficiency से  नवीन industries के काम में क्रांतिकारी बदलाव लाए जा सके हैं।

इसे भी जानें – Barcode क्या है ?

5G किस टेक्नोलॉजी से मिलकर बनी हुई है?

5G मुख्य रूप से OFDM (orthogonal frequency division multiplexing) तकनीक पर आधारित है। जिसके अंतर्गत विभिन्न डिजिटल सिग्नलों को इस प्रकार modulate किया जाता है जिससे उनके बीच interference न्यूनतम हो जाता है। 5G के अंर्तगत wider bandwidth टेक्नोलॉजी जैसे 6GHz तथा mm wave का प्रयोग किया जाता है।

5G कैसे काम करता है?

5G OFDM ,4G LTE आधारित सिद्धांत पर ही कार्य करता है परंतु 5G में इसके अलावा NR air interference टेक्नोलॉजी के मदद से अधिक क्षमता की flexibility तथा scalability पाना संभव हो सका है। जो अधिक लोगो को जोड़ने के साथ साथ इसके उपयोग क्षमता को भी बढ़ाता है।

5G के अंतर्गत bandwidth क्षमता को बढ़ाया गया है जिससे 4G में प्रयोग की गई 3 GHz को 100 GHz तथा उससे अधिक तक प्रयोग किया जा सकता है। 5G टेक्नोलॉजी ना केवल 4G LTE की तुलना में अधिक अच्छी ब्रॉडबैंड सर्विस देने के साथ साथ नवीन सर्विस एरिया जैसे mission-critical कम्युनिकेशन में किया जा सकता है।

5G तथा पुरानी मोबाइल नेटवर्क तकनीकों में क्या अंतर है?

मोबाइल नेटवर्क की पुरानी जनरेशन 1G 2G 3G 4G रही हैं।

First generation 1G

यह वर्ष 1980 में विकसित तकनीक थी जिसमें केवल बातचीत की जाना संभव था।

Second generation 2G

यह वर्ष 1990 में विकसित की गई थी जिसमें डिजिटल वॉइस तकनीक CDMA (code division multiple access) का प्रयोग किया गया था।

Third generation 3G

यह वर्ष 2000 में विकसित की गई थी जिसमें मोबाइल डाटा जैसी सुविधाएं भी प्रदान की गई थी यह cdma2000 पर आधारित थी।

Fourth Generation 4G LTE

यह वर्ष 2010 में विकसित की गई थी इसके अंतर्गत मोबाइल ब्रॉडबैंड युग की शुरुआत हुई थी।

1g 2G 3G 4G मोबाइल नेटवर्क तकनीक से कदम दर कदम हम 5G टेक्नोलॉजी की ओर बढ़े हुए हैं जिसके अंतर्गत अभूतपूर्व कनेक्टिविटी के साथ-साथ डाटा स्पीड पाना संभव सका है।

अत्यधिक data speed superior reliability तथा negligible latency के साथ 5G टेक्नोलॉजी मोबाइल ecosystem को नए स्वरूप में परिवर्तित कर देगा। 5G तकनीक transportation remote healthcare precision agriculture तथा डिजिटल आधारित लॉजिस्टिक्स को जीवंतता प्रदान करेगा।

5G टेक्नोलॉजी के लाभ

5G टेक्नोलॉजी निम्नलिखित कारणों से 4G से बेहतर है –

  1. 5G टेक्नोलॉजी में डाटा स्पीड 4G की तुलना में अधिक है.
  2. 5G टेक्नोलॉजी की छमता 4G की तुलना में अधिक है।
  3. 5G में 4G की तुलना में कम विलंब होता है।
  4. 5G एक unified platform है जो 4G की तुलना में अधिक सेवाओं को प्रदान कर सकता है।
  5. 5G की स्पेक्ट्रम प्रयोग करने की क्षमता 4G से अधिक है।

5G टेक्नोलॉजी का प्रयोग कहाँ किया जाएगा

5G टेक्नोलॉजी का प्रयोग मुख्य रूप से सभी प्रकार के सेवाओं में किया जाएगा इसमें मोबाइल ब्रॉडबैंड मिशन क्रिटिकल कम्युनिकेशन आदि शामिल है।

Enhanced mobile broadband

स्मार्टफोन को बेहतर बनाने के साथ-साथ 5G टेक्नोलॉजी वीडियो तथा ऑडियो रिकॉर्डिंग की क्वालिटी को बेहतर बनाने, अधिक डाटा रेट, कम से कम विलंब (lower latency) तथा cost per bit की दिशा में भी अच्छा प्रदर्शन करेगी।

Mission critical communication

5G टेक्नोलॉजी की मदद से नवीन सेवा से संबंधित इंडस्ट्रीज को अत्यधिक विश्वसनीय तथा कम विलंब की लिंक प्रदान करेगी जिससे critical infrastructure, vehicle तथा medical procedures में भी remote control तरीके से ऑपरेट किया जा सके।

Massive IoT

5G टेक्नोलॉजी की मदद से हम अधिक से अधिक embedded sensors को काल्पनिक रूप से एक दूसरे से जोड़ सकते हैं जिससे low cost connectivity solution प्राप्त हो सकेंगे तथा सेवाओं का user experience भी एक अलग स्तर पर पहुंचेगा।

क्या 5G टेक्नोलॉजी वर्तमान में उपलब्ध है?

वर्तमान में 5G टेक्नोलॉजी उपलब्ध हो चुकी है तथा दुनिया के अनेक देशों में 5G नेटवर्क 2019 से ही लांच होने लगे हैं। सभी मुख्य फोन निर्माता कंपनियां 5G स्मार्टफोन लांच कर रही है जैसे लोगों को 5G नेटवर्क तक पहुंच सुनिश्चित होना शुरू हो चुकी है अभी तक दुनिया के 7 से अधिक देशों में 5G टेक्नोलॉजी प्रवेश कर चुकी है जो समय के साथ साथ और अधिक जगह भी लॉन्च हो जाएगी।

क्या 5G टेक्नोलॉजी के लिए हमें एक नए स्मार्टफोन की आवश्यकता होगी?

5G सेवाओं के प्रयोग के लिए हमें एक ऐसे स्मार्टफोन की आवश्यकता होगी जो 5G नेटवर्क को सपोर्ट कर सके। यदि हमारे वर्तमान स्मार्टफोन में यह तकनीक नहीं है तो हमें एक नया स्मार्टफोन लेना होगा जिसमें 5G नेटवर्क से जुड़ने की क्षमता होगी क्योंकि 5जी सेवा हेतु स्टैंडर्ड 4G की तुलना में अलग-अलग है तथा यह अन्य टेक्नोलॉजी की तुलना में अधिक स्पेक्ट्रम का प्रयोग करता है।

5G से जुड़े कुछ सवाल जवाब

5G क्या है?

5G टेक्नोलॉजी एक ऐसा नेटवर्क है जिसमें virtually सभी लोगों तथा सभी चीजों जैसे मशीन डिवाइस आदि को जोड़ा जा सकता है। 5G वायरलेस टेक्नोलॉजी के माध्यम से अधिक डाटा स्पीड अधिक विश्वसनीयता अधिक नेटवर्क क्षमता तथा अधिक से अधिक लोगों के लिए समान नेटवर्क अनुभव जैसी सुविधा देना संभव हो सकेगा।

5G मोबाइल का मतलब क्या होता है?

5G OFDM ,4G LTE आधारित सिद्धांत पर ही कार्य करता है परंतु 5G में इसके अलावा NR air interference टेक्नोलॉजी के मदद से अधिक क्षमता की flexibility तथा scalability पाना संभव हो सका है। जो अधिक लोगो को जोड़ने के साथ साथ इसके उपयोग क्षमता को भी बढ़ाता है।

भारत में 5G कब आएगा

भारत में 2022 तक 5G आना था और इसकी टेस्टिंग भी बहुत जोरों से हो रही थी पर कुछ कारण बस इसकी लॉंचिंग नहीं हुई। आने वाले समय में 5G आना है।

मोबाइल में 5जी चलाने के लिए क्या नया मोबाइल जरूरी है?

मोबाइल में 5G चलाने के लिए आपके पास 5G सपोर्टेड मोबाइल होना जरूरी है यदि आपका मोबाइल पहले से ही 5G सपोर्ट करता है तो आपको नया मोबाइल लेने की आवश्यकता नहीं यदि नहीं करता तो आपको नया मोबाइल लेना होगा।

Similar Posts

2 Comments

  1. Hello kafi ache se bataya hai aapne 5G ke bare main main aap se kafi din se contect karne ki koshish kar raha hu aapki Instagram ID kya hai?

Leave a Reply

Your email address will not be published.