Screen Refresh Rate क्या है? 60Hz, 90Hz और 120Hz Display का में क्या अंतर है?

आज के समय में Screen Refresh Rate रेट को बहुत ज्यादा महत्व दिया जा रहा है क्योंकि इस समय में ऑनलाइन गेमिंग बहुत ज्यादा खेला जा रहा है इसके साथ गेम भी ज्यादा से ज्यादा लोग खेलते हैं पर गेम में अच्छे ग्राफिक्स की जरुरत होती है और उन ग्राफिक्स को जब स्क्रीन में चलाया जाता है तो अच्छी स्क्रीन होनी चाहिए ताकि स्क्रीन में पूरा स्मूथ व्यू आये कही भी लेग देखने न मिले इसलिए ज्यादा हार्ड्ज़ के डिस्प्ले आने लगे है ज्यादा लोगो को पता ही नहीं होता है कि Screen Refresh Rate क्या है? अच्छे रिफ्रेश रेट वाली डिस्प्ले के क्या फायदे हैं?

Refresh Rate क्या है?

किसी Display के एक Second में जितनी बार उस Display की Screen Refresh होती है उसे Screen Refresh Rate कहते हैं। Refresh Rate को Hz हर्ट्ज़ में नापते हैं। जिस Display का जितना ज्यादा Refresh Rate होगा Display उतना ही अच्छा स्मूथ चलेगा जिससे User का Experience बढ़ जाता है।

जैसा कि हम जानते हैं Refresh का अर्थ ताजा या नया होता है और Rate का अर्थ है दर या Speed अर्थात जब हमारी Display एक सेकंड में जितनी स्पीड से हमारे Display के pixel चेंज होते हैं उसे ही Screen Refresh Rate कहते हैं।

यदि हमारी Screen 1 सेकंड में 60 बार Refresh होती है तो इसे हम कहेंगे स्क्रीन का Refresh Rate 60Hz है।

Refresh Rate के क्या फायदे होते है?

  • Screen स्मूथ चलती है।
  • स्क्रीन में फ्रेम अटकते हुए नहीं दिखते हैं।
  • User Expriciance बढ़ जाता है।
  • स्क्रीन का Visual साफ़ और क्लीन होता है।
  • कोई भी गेम खेलने में स्क्रीन लैग नहीं होती है।

Refresh Rate के क्या नुकसान होते है?

  • High Refresh Rate से मोबाइल की बैटरी ज्यादा लगती है क्योंकि स्क्रीन में पर सेकंड ज्यादा फ्रेम चलते हैं तो स्क्रीन को ज्यादा पॉवर की जरुरत पड़ती है जिससे बैटरी की खपत भी ज्यादा होती है पर आजकल के मोबाइल फ़ोन की बैटरी इतनी बड़ी होती है कि हमारी डेली लाइफ में बैटरी का कोई issue देखने को नहीं मिलता है।
  • Display या स्क्रीन की कोस्ट बढ़ जाती है।

Refresh Rate कैसे काम करता है?

Refresh Rate हमारी स्क्रीन पर सीधे Apply नहीं होता है इसके लिए हमारी स्क्रीन को instruction की जरुरत पड़ती है जो कि इसे CPU या Processer से मिलती है। हमारा CPU या Processer प्रोसेस करता है कि एक सेकंड में कितने फ्रेम को चलना है उसके बाद यह निर्देश स्क्रीन को भेजता है और स्क्रीन की जितनी क्षमता होती है वह उसके अनुसार एक सेकंड में उतने फ्रेम को रिफ्रेश कर देती है जिससे आप स्क्रीन में देख पाते हैं इस तरह Refresh Rate काम करता है।

90Hz और 120Hz Display में क्या अंतर है?

जैसे कि हमने बताया कि रिफ्रेश रेट क्या है किस तरीके से काम करता है उसी तरह से 90Hz और 120Hz Display से भी काम करता है 90Hz की स्क्रीन डिस्प्ले में एक सेकंड में 90 बार रिफ्रेश होती है और 120Hz की स्क्रीन डिस्प्ले एक सेकंड में स्क्रीन 120 बार रिफ्रेश होती है जिससे 90 हार्ड्ज़ वाली डिस्प्ले में थोड़ा LAG (लेग) देखने मिलता है जबकि 120Hz वाली डिस्प्ले ज्यादा स्मूथ चलती है यूजर को ज्यादा अच्छा व्यू मिलता है इसी कारण की 120Hz का डिस्प्ले इस समय ज्यादा प्रचलित है ।

60Hz और 90Hz Display में क्या अंतर है?

60Hz वाली डिस्प्ले में स्क्रीन 1 सेकंड में 60 बार रिफ्रेश होती है जबकि 90 Hz वाली डिस्प्ले में स्क्रीन 1 सेकंड में 90 बार रिफ्रेश होती है जिससे 60Hz वाली डिस्प्ले थोड़ा लेग होता है जबकि 90Hz वाली स्क्रीन डिस्प्ले में 60Hz से अच्छा व्यू मिलता है।

60Hz और 120Hz Display में क्या अंतर है?

60Hz वाली डिस्प्ले में स्क्रीन 1 सेकंड में 60 बार रिफ्रेश होती है जबकि 120Hz वाली डिस्प्ले में स्क्रीन 1 सेकंड में 120 बार रिफ्रेश होती है जिससे 60Hz वाली डिस्प्ले में ज्यादा लेग होता है जबकि 120Hz वाली स्क्रीन डिस्प्ले में बहुत अच्छा और स्मूथ व्यू मिलता है जिसके कारण इसका इस्तेमाल लोग गेम खेलने के लिए ज्यादा करते हैं। आज कल तो 120Hz वाले मोबाइल ज्यादा आ रहे हैं।

क्या ज्यादा Screen Refresh Rate के Display लेना चाहिये?

वैसे तो सभी Screen Refresh Rate के मोबाइल और Display अच्छे होते हैं पर हमें किस use के लिए डिस्प्ले चाहिए उसके ऊपर निर्भर करता है यदि हमें नार्मल उपयोग के लिए लेना है तो हम कम रिफ्रेश रेट की डिस्प्ले ले सकते हैं पर यदि हमें ज्यादा यूज़ जैसे वीडियो एडिटिंग या गेमिंग करना हैं तो ज्यादा स्क्रीन रिफ्रेश रेट की डिस्प्ले ले सकते हैं।

💠 Fastag Recharge कैसे करें?
💠 सिलिका जेल क्या है?
💠 WhatsApp से पैसे कैसे Transfer करें
💠 Fastag क्या है? कैसे काम करता है कैसे बनाये और Activate करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.